नई दिल्ली. इंडिया डेटलाइन, आप यह जानकर हैरान हो जाएंगे कि भारत में एक व्यक्ति ट्रंप का ऐसा अनन्य भक्त था जो उनकी आदमकद मूर्ति बनाकर देवता की तरह पूजता था और जिसने ट्रंप के कोविड संक्रमित होने की खबर सुनते ही दम तोड़ दिया। 

दक्षिण तेलंगाना के कोन्ने गांव के इस तीस वर्षीय विधुर किसान बुस्सा कृष्णा ने अपने आंगन में ट्रंप की मूर्ति बनाई थी और रोज पूजा करता था। यह किसान ट्रंप की सपाट बयानी और दबंग बोलने की शैली से प्रभावित था । जब ट्रंप ने देश को सूचित किया कि वे कोरोना संक्रमित हो गए हैं तो कृष्णा का दिल टूट गया। उसने फेसबुक पर रोते हुए एक वीडियो जारी किया और सभी से ट्रंप के स्वस्थ होने की प्रार्थना करने की अपील की। उसने खाना-पीना छोड़ दिया । अंततः रविवार को हृदयाघात से उसकी मृत्यु हो गई।  उसके परिवार में माता-पिता और 7 साल का पुत्र है।

कृष्णा ने ट्रंप के गत फरवरी में भारत दौरे के पहले उनसे मिलने की मंशा से नई दिल्ली स्थित अमेरिकी दूतावास की यात्रा की थी। गांव के सरपंच वेमुला वेंकट ने कहा कि उन्हें अफसोस है कि उसका सपना पूरा नहीं हो सकता।

कृष्णा के चचेरे भाई विवेक बुक्का के मुताबिक वह शारीरिक रूप से स्वस्थ था। कोई बीमारी नहीं थी। उसके रिश्तेदार बताते हैं कि उसे एक दिन ट्रंप सपने में आए और कहा कि भारत की क्रिकेट टीम अगले दिन पाकिस्तान को एक मैच में हरा देगी और सचमुच भारत जीता। उस दिन से उसने डोनाल्ड ट्रंप की पूजा करना शुरू कर दिया। उसका परिवार सोचता था कि वह दिमागी रूप से विचलित हो गया है। कृष्णा ने ट्रंप के लिए हर शुक्रवार को व्रत रखना शुरू कर दिया था।

यह जानकारी नहीं है कि व्हाइट हाउस को भारत में उनके सबसे बड़े प्रशंसक की कोई खबर है या नहीं।  ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ लिखता है कि भले ही शहरों के बुद्धिजीवी ट्रंप की हंसी उड़ाएं, भारत में उनके बहुत प्रशंसक हैं। फरवरी में पिऊ रिसर्च सेंटर के सर्वे में पाया गया था कि भारत में उनके 56 प्रतिशत समर्थक हैं जो मानते हैं कि  वैश्विक मामलों में ट्रंप सही कदम उठा रहे हैं। उनके चुने जाने के बाद से इनमें 16% वृद्धि हुई। अखबार लिखता है कि कृष्णा की तरह अन्य देशों में भी ट्रंप के चाहने वाले हैं। अफगानिस्तान में एक दंपति ने अपने तीसरे बेटे का नाम डोनाल्ड ट्रंप रखा। जब वहां विरोध हुआ तो उस परिवार को अफ़गानिस्तान छोड़ना पड़ा। स्लोवेनिया में एक शिल्पकार ने लकड़ी की विशाल प्रतिमा बनाई जिसे अब कांस्य से बनाया जा रहा है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here