नई दिल्ली. इंडिया डेटलाइन. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन जैसे दिलचस्प इंसान हैं वैसा ही उनका परिवार। बिखरे हुए बालों वाली खिलंदड़ सी शख्सियत वाले इस राजनेता ने पिछले दिनों कहा था कि वह प्रधानमंत्री पद छोड़ने का विचार कर रहे हैं क्योंकि इस पद की तनख़्वाह से उनका घर ख़र्च नहीं चलता। अब उनके पिताजी ने यह कहकर सुर्ख़ियाँ बटोरीं वे ब्रिटेन सरकार के एक फैसले की मुख़ालफ़त में अब इस देश में नहीं रहेंगे। उनका ख़ानदान फ्रांस से आया था, वहीं लौट जाएँगे। 

पिछले हफ्ते ब्रिटेन ने यूरोपियन सदस्य से बाहर निकलने का फैसला किया जिसके विरोध में बोरिस के पिता स्टेनले ने ऐलान कर दिया कि वे इससे खुश नहीं हैं। वे यूरोप के बाशिंदे हैं और वही बने रहना चाहते हैं। लिहाजा वे फ्रांस चले जाएँगे जो यूरोपियन यूनियन का सदस्य है। फ्रांस सरकार के प्रतिनिधि ने बोरिस के डैड द्वारा उनके देश की सदस्यता ग्रहण करने की बात का स्वागत किया। फ्रांस के यूरोपियन मामलों के मंत्री क्लेमेंट ब्यूने ने कहा कि यह दर्शाता है कि ब्रिटेन के लोग यूरोप को कितना प्यार करते हैं और यूरोपियन यूनियन से उनका कितना लगाव था। 

80 वर्षीय स्टेनले कंज़रवेटिव सदस्य रह चुके हैं और 2016 में हुए ब्रेक्जिट जनमत संग्रह में उन्होंने यूरोपियन यूनियन के साथ रहने के पक्ष में वोट दिया था। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here