नई दिल्ली. इंडिया डेटलाइन.  राहुल गांधी भारतीय राजनीति के सबसे बड़े टॉकिंग पॉइंट है।  सो, फिर उनके एक बयान को लेकर चर्चा मे हैं। केरल के दौरे के तहत  उन्होंने हाल में कह दिया कि उत्तर के लोग सतही हैं। उन्होंने उत्तर में 15 साल सांसद रहने के दौर को केरल की सांसदी से कमतर बताया ।  इससे न केवल अमेठी और भाजपा में तीखी प्रतिक्रिया हुई बल्कि कांग्रेस में भी बेचैनी नजर आई।  असंतुष्ट धड़े ने  वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद के घर पर चर्चा की है।

राहुल ने तिरुअनंतपुरम में मंगलवार को कहा कि पहले 15 वर्ष में उत्तर भारत से सांसद चुना जाता रहा, तब मैंने अलग तरह की राजनीति का अनुभव किया। केरल में आते ही मैं अचानक तब ताजगी से भर गया जब मैंने पाया कि यहां के लोग मुद्दों में रुचि रखते हैं और उत्तर की तरह सतही नहीं हैं।

उत्तर दक्षिण के इस अंतर को लेकर राहुल गांधी निशाने पर आ गए। केवल भारतीय जनता पार्टी ने ही इसकी आलोचना नहीं की बल्कि उनकी अपनी पार्टी से उठे स्वरों ने लोगों का खास ध्यान खींचा। कपिल सिब्बल और आनंद शर्मा ने इसे लेकर टिप्पणी की। ये लोग उन 23 असंतुष्ट नेताओं में है जिन्होंने पिछले अगस्त में पार्टी के कामकाज को लेकर सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी थी। कपिल सिब्बल ने कहा कि मैं तो सिर्फ इतना ही कहना चाहता हूं कि देश का मतदाता बुद्धिमान है। हमें उनकी बुद्धिमत्ता का सम्मान करना चाहिए। भले ही वह मतदाता देश के किसी भी हिस्से का हो, आखिर वह मतदाता ही होता है जो वोट देकर आप को सत्ता में लाता है या बेदखल करता है ।  हमें देश के मतदाताओं के अपमान से बचना चाहिए। उधर राज्यसभा सांसद आनंद शर्मा ने राहुल गांधी के बयान को लेकर कहा कि वही इस बारे में बता सकते हैं कि वह क्या कहना चाहते थे। राहुल गांधी ने अपने निजी अनुभवों को साझा किया है, न कि भारत के किसी हिस्से को लेकर अनादर दिखाया है। किस संदर्भ में उन्होंने यह कहा, वही साफ कर सकते हैं।

राहुल गांधी के कथन से बयानों -टिप्पणियों की बाढ़़ आ गई। रायबरेली की असंतुष्ट कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने कहा कि जिस अमेठी ने आपको राजनीति सिखाई, आज उसके बारे में ऐसा कहना सही नहीं है। जहां से आपके पूर्वजों को जीत मिली, सम्मान मिला उसी अमेठी के लिए इस तरह की बात करना गलत है। राहुल गांधी को अमेठी के लोगों से माफी मांगनी चाहिए।

जनसत्ता वेबसाइट  ने खबर दी है कि आनंद शर्मा और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा असंतुष्ट धड़े के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद के आवास से बाहर निकलते देखे गए। सूत्रों के अनुसार ये नेता राहुल गांधी की टिप्पणी से खुश नहीं हैं।  आनंद शर्मा ने पार्टी कैडर पर वायनाड सांसद की टिप्पणी और कांग्रेस की छवि को नुकसान पहुंचने पर चर्चा की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here